ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए नई तकनीक से ड्रैगन फ्रूट फार्मिंग करें (Dragon Fruit Farming in Hindi)

आज के समय पर ड्रैगन फ्रूट एक बहुत प्रचलित फल है | जिसकी खेती करने के लिए बहुत से किसान सोच रहे हैं | पहले के समय में ड्रैगन फ्रूट को भारत में लगभग कोई नहीं जानता था परंतु कुछ जब से कोरोना काल आया इसको सब जानने लगे हैं क्योकि यह एक औषधीय फल है जिसमे इम्युनिटी बढ़ाने की बहुत अधिक क्षमता पाई जाती है | जिसके कारण ड्रैगन फ्रूट की मार्केट में अच्छी खासी डिमांड हमेशा बनी रहती है | इसके मुनाफे और बाजार में अत्यधिक डिमांड के कारण बहुत से किसान इसकी खेती करने की सोच रहे हैं |

Dragon Fruit Farming in Hindi

आज हम आपको इस ब्लॉग में बताने वाले हैं कि ड्रैगन फ्रूट की खेती की नई तकनीकी Dragon Fruit Farming in Hindi के बारे में बताने वाले हैं जो की बहुत कम जगह में और ज्यादा मुनाफे का सौदा होगा तो इसकी सम्पूर्ण विधि को जानने के लिए तथा साथ ही आपको बताने वाले हैं ड्रैगन फ्रूट की प्रमुख किस्म, इसकी आधुनिक तकनीकी से खेती में लागत तथा मुनाफा Dragon Fruit Farming in Hindi कितना होता है |

अगर आपको भी खेती में अच्छी आमदनी कमानी है तो इस ब्लॉक को जानने के लिए सब पूरा

परिचय

ड्रैगन फ्रूट एक औषधीय फल है जो कि अपने औषधीय गुणों के कारण बहुत चर्चा का विषय से बना हुआ है यह कोरोना कल के समय में बहुत चर्चित हुआ भारत में से पिटाया नाम से भी जानते हैं इसका वैज्ञानिक नाम हिलोकेरेस अंडटस यह भारत में एक नया फल है जिसके बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते परंतु उसे विदेश में इसकी बहुत भारी मात्रा में मांग है यह एक अमेरिकी फल है जिसको थाईलैंड, वियतनाम, इसराइल, श्रीलंका जैसे बहुत अधिक मात्रा में उगाया जाता है यह एक नागफनी की प्रजाति है जो कि बाहर से गुलाबी या पीले रंग का दिखता है जिसके अंदर सफेद या गुलाबी गुर्दा पाया जाता है यह एक मीठा और अपने पोषक तत्वों से भरपूर होता है यह इसमें विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं इसमें कीवी की तरह ही अंदर से बीज पाए जाते हैं इसका इस्तेमाल बहुत सी फूड सामग्री बनाने में औद्योगिक स्तर पर किया जा रहा है इसके इस्तेमाल से बहुत से बीमारियों से लड़ने में क्षमता है चिकित्सकों के अनुसार अगर कोई व्यक्ति हर रोज ड्रैगन फ्रूट का सेवन करता है तो उसे शायद ही डाक्टर पास जाने की जरूरत पड़े |

इस ब्लॉग में मैंने केवल ड्रैगन फ्रूट की नई तकनीकी के बारे में बताया है | ड्रैगन फ्रूट खाने के लाभ, ड्रैगन फ्रूट किन-किन रोगों में लाभकारी होता है तथा ड्रैगन फ्रूट की अन्य जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करें | https://largestbusinesss.in/dragon-fruit-farming-kaise-karen/

ड्रैगन फ्रूट की मुख्य प्रजातियाँ

ड्रैगन फ्रूट एक नागफनी की प्रजाति है परंतु खेती करने के लिए मुख्य ड्रैगन फ्रूट लगभग तीन प्रकार की ही प्रजातियाँ ही प्रसिद्ध हैं

1. गुलाबी ड्रैगन फ्रूट :- यह ड्रैगन फ्रूट बाहर और अन्दर से गुलाबी रंग का होता है | यह खाने में अधिक स्वादिष्ट होता है | इसकी बाजार में अच्छी कीमत मिल जाती है |

२. पीला ड्रैगन फ्रूट :- यह ड्रैगन फ्रूट अंदर से सफ़ेद तथा बाहर से पीले रंग का होता है | यह अन्य ड्रैगन फ्रूट के मुकाबले ज्यादा महंगा होता है |

३. गुलाबी ड्रैगन फ्रूट :- यह ड्रैगन फ्रूट भी गुलाबी रंग का दिखता है यह अन्दर से सफ़ेद होता है | यह सबसे सस्ता ड्रैगन फ्रूट होता है |

ऑनलाइन ड्रैगन फ्रूट खरीदने के इस लिंक पर क्लिक करें

ट्रीलिस सिस्टम में ज्यादातर जंबो वैरायटी जो कि पूर्ण रूप से गुलाबी बाहर से भी और अंदर से भी गुलाबी होती है इसकी खेती की जाती है | Dragon Fruit Farming in Hindi

ड्रैगन फ्रूट की आधुनिक खेती तकनीक Dragon Fruit Farming in Hindi

ड्रैगन फ्रूट फार्मिंग एक आधुनिक फ्रूट फार्मिंग Dragon Fruit Farming in Hindi है जिसमें ड्रैगन फ्रूट के फलों का उत्पादन किया जाता है परंतु जिसके बारे में हम आज आपको बताने वाले हैं वह ड्रैगन फ्रूट फार्मिंग की नई तकनीक है जिसमें कम जगह में ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है | इस खेती में कम पानी में का जगह में अधिक से अधिक मुनाफा कमाया जा सकता है |

तो आज हम इसी के बारे में बात करने वाले हैं जो कि कई स्टेप में आगे विस्तार में पूर्व बताया गया है –

ट्रीलिस सिस्टम trellis Method :- यह एक ऐसी विधि है जिसमें ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए पोल न तैयार कर के बल्कि स्टील के तार तथा लोहे की एंगल का उपयोग करके ही ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए पूरा सिस्टम तैयार किया जाता है इस विधि से ड्रैगन फ्रूट के प्लांट ज्यादा मात्रा में बैठते हैं जो की एक एकड़ में लगभग 4000 आते हैं यही पोल वाला सिस्टम तैयार करने में लगभग 2800 से 2900 के बीच ही पौधे आते हैं इस विधि में ड्रैगन फ्रूट के फार्मिंग के लिए फार्मिंग में पौधों की संख्या बढ़ जाती है जिससे उत्पादन भी हमारा बढ़ जाता है और जगह की काफी बचत होती है |

ड्रिप इरिगेशन सिस्टम

ड्रैगन फ्रूट फार्मिंग की नई तकनीकी Dragon Fruit Farming in Hindi के द्वारा ड्रैगन फ्रूट की खेती करने में आप ड्रिप इरिगेशन सिस्टम भी लगा सकते हैं जिसका यह फायदा होता है कि ड्रैगन फ्रूट के फूल लगभग गर्मियों के सीजन में ही आते हैं जो की धूप के कारण सूख जाते हैं या फिर नष्ट हो जाते हैं अगर इरिगेशन सिस्टम तैयार कर देते हैं तो उसके उपयोग से आप ड्रैगन फ्रूट के पौधों का तापमान कम कर सकते हैं जिसके द्वारा आपके फूल नष्ट नहीं होंगे तथा जिससे आपकी उत्पादन क्षमता बढ़ जाएगी और आपको कम नुकसान होगा | इसके लिए ज्यादा गर्मी नुकसान देह नहीं होती है परन्तु ज्यादा गर्मी लाभदायक भी नही होती है | इसलिए आप चाहे तो ड्रिप इरिगेशन सिस्टम तैयार कर सकते हैं जिससे आपको ही मुनाफा होगा | Dragon Fruit Farming in Hindi

आफ सीजन उत्पादन

ड्रैगन फ्रूट फार्मिंग की नई तकनीकी Dragon Fruit Farming in Hindi की सहायता से आप ड्रैगन फ्रूट का उत्पादन आफ सीजन में भी ले सकते हैं मतलब बिना सीजन के ही | जिसके लिए आपको इस सिस्टम में बल्ब भी लगा सकते हैं जो की एक ह्यूमैनिटी क्रिएट होगी जिससे पौधों को रात में भी प्रकाश मिलेगा और पौधे बिना सीजन के भी फल का उत्पादन करते रहेंगे और आपकी आमदनी होती रहेगी | Dragon Fruit Farming in Hindi

ट्रीलिस सिस्टम कैसे तैयार करें

यह एक ऐसा सिस्टम है जिसमें ड्रैगन फ्रूट की खेती Dragon Fruit Farming in Hindi पोल पर न कर के एक कतार में किया जाता है | ट्रीलिस सिस्टम तैयार करने के लिए आपको तार या स्टील की पाइप और लोहे की जरूरत पड़ेगी या फिर आप इसकी सीमेंट का भी खम्भा तैयार कर सकते हैं जिस प्रकार से नीचे इमेज में आपको दिखाया गया है ठीक उसी प्रकार से आपको तैयार कर लेना है | अगर आप लोहे के खम्भे तैयार कर रहे हैं तो आप सीमेंट की जगह लोगे को बेल्डिंग की सहायता से जुड़वा लें | Dragon Fruit Farming in Hindi

ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए पौधे को कैसे लगाये

ड्रैगन फ्रूट की नई तकनीकी Dragon Fruit Farming in Hindi में आप नई तकनीक के द्वारा खेती करने के लिए आपको पौधे लगाने से पहले खेत को अच्छी तरह से जुताई करने की आवश्यकता होगी | अगर आप सीधा कलाम विधि से ड्रैगन फ्रूट लगा रहे हैं तो आप उसमें खाद न डालें क्योंकि खाद डालने से वह सड़ भी सकता है इसके बाद आप इसमें ट्रैक्टर या पावर ट्रिलर की मदद से 10 फीट की दूरी पर लंबी कतार में बेड बनवा लें अगर उसमें ट्रीलिस सिस्टम तैयार करने के बाद उसमें पौधों का रोपण करें इसमें पौधों का रोपण करने के लिए लगभग करने के लिए दो-दो फीट की दूरी पर पौधे लगाए | इस विधि में लगभग 4000 पौधे एक एकड़ में ही लग जाते हैं जो की एनी विधि में लगभग 2800 ही लग पते हैं | Dragon Fruit Farming in Hindi

तैयार होने में समय

ड्रैगन फ्रूट की ड्रैगन फ्रूट की खेती Dragon Fruit Farming in Hindi करने में लगभग 1 से 2 साल का समय रहता है अगर आप अच्छी देखभाल करते हैं तो 1 साल के बाद ही ड्रैगन फ्रूट उत्पादन देना शुरू कर देगा परंतु इसमें कुछ कम मात्रा में उत्पादन होगा था जब दूसरी बार उत्पादन देगा तो लगभग एक पेड़ से आपको एक पेड़ से 3 से चार किलो ड्रैगन फ्रूट का उत्पादन होगा जो कि लगभग 4000 पेड़ से लगभग 16 टन का उत्पादन होगा |

लागत तथा मुनाफा

ड्रैगन फ्रूट की खेती Dragon Fruit Farming in Hindi में सिर्फ एक बार पैसा लगाना होता है फिर 25 साल तक यह उत्पादन देता रहता है इसमें एक साल फसल इसमें ट्रीलिस सिस्टम से ले कर पौधे की रोपाई तथा सभी खर्चे को मिलाकर लगभग 7 से 8 लाख प्रति एकड़ का खर्चा आता है फिर इसमें फिर इसमें हर साल लगभग ₹100000 तक का खर्चा आएगा |

अगर मुनाफा की बात की जाए तो उसके एक फल की कीमत लगभग 70 से ₹100 पीस मिलती है अगर कोई व्यक्ति एक एकड़ में इसकी खेती नई तकनीकी से कर रहा है तो उसे लगभग 15 से 16 लख रुपए मुनाफा प्रति वर्ष हो जायेगा |

2 thoughts on “ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए नई तकनीक से ड्रैगन फ्रूट फार्मिंग करें (Dragon Fruit Farming in Hindi)”

Leave a Comment